Posts

किन पदार्थों को विटामिन कहते हैं? विटामिन के वर्गीकरण , स्रोत तथा दैनिक जीवन में महत्व का वर्णन कीजिए । [ यूपी बोर्ड परीक्षा /कक्षा12/(2019)//रसायन विज्ञान/अनसाल्वड/Set-3/347FM/प्रश्न संख्या 7(ख) ]

उत्तर :
विटामिन :
✓ ऐसे कार्बनिक योगिक जो शरीर के उपापचयी क्रियाओं (metabolism) के लिए अति आवश्यक होता है तथा जिनसे कोई कैलोरी ऊर्जा प्राप्त नहीं होती विटामिंस कहलाता है।
✓विटामिन्स को शरीर का रक्षात्मक पदार्थ भी कहा जाता है।
✓ विटामिंस ऐसे पदार्थ होते हैं जो शरीर के स्वास्थ्य , वृद्धि तथा पाचन क्षमता को बनाए रखने में सहायता प्रदान करते हैं।
विटामिंस के वर्गीकरण :
जल में घुलनशीलता के आधार पर विटामिन को दो भागों में वर्गीकृत किया गया है ..
1. जल में घुलनशील विटामिन :
✓ ऐसे विटामिंस जल में घुलनशील होते हैं।
✓ इसके अंतर्गत विटामिन B और विटामिन C आते हैं।
2. जल में अघुलनशील विटामिन अथवा वसा में घुलनशील विटामिन :
✓ ऐसे विटामिंस जल में अघुलनशील(insoluble) होते हैं जबकि वसा में घुलनशील (soluble) होते हैं।
✓ इसके अंतर्गत विटामिन A ,  विटामिन D , विटामिन E तथा विटामिन K आते हैं।

विटामिन के स्रोत तथा दैनिक जीवन में विटामिंस का महत्व : 
✓  प्रकृति द्वारा उपजे गए पदार्थ ही विटामिंस के प्रमुख स्रोत है । 
✓ जीवधारियों के शरीर के लिए यह अति आवश्यक पदार्थ होता है । जिसकी कमी से विभिन्न प्रकार की बीमारियां…

अमोनिया से नाइट्रिक अम्ल कैसे प्राप्त करेंगे ? [ यूपी बोर्ड परीक्षा /कक्षा12/(2019)//रसायन विज्ञान/अनसाल्वड/Set-3/347FM/प्रश्न संख्या 7(क)/अथवा खण्ड/५. ]

Image
उत्तर :
अमोनिया से नाइट्रिक अम्ल बनने की अभिक्रिया तीन चरणों में पूरी होती है।
पहला चरण : 
अमोनिया , प्लेटिनम धातु जैसे उत्प्रेरक की उपस्थिति में नाइट्रिक ऑक्साइड में ऑक्सीकृत हो जाता है।
4NH3 + O2 → 4NO + 6H2O

दूसरा चरण :
नाइट्रिक ऑक्साइड पुन: नाइट्रोजन डाइऑक्साइड गैस में आक्सीकृत हो जाता है।
4NO + 2O2 → 4NO2 ↑


तीसरा चरण : 
नाइट्रोजन डाइऑक्साइड , जल के साथ अभिक्रिया करके नाइट्रिक अम्ल बनाता है ।
3NO2 + H2O → 2HNO3 + NO


बेरियम एजाइड से बेरियम कैसे प्राप्त करेंगे ? [ यूपी बोर्ड परीक्षा /कक्षा12/(2019)//रसायन विज्ञान/अनसाल्वड/Set-3/347FM/प्रश्न संख्या 7(क)/अथवा खण्ड /४. ]

Image
उत्तर :
बेरियम एजाइड को गर्म करने पर बेरियम में परिवर्तित हो जाता है तथा नाइट्रोजन गैस साथ में मुक्त होती है।
2BaN3 → 2Ba + 3 N2↑

जीनान टेट्राफ्लोराइड(XeF4) से जीनान ट्राइऑक्साइड(XeO3) कैसे प्राप्त करेंगे ? [ यूपी बोर्ड परीक्षा /कक्षा12/(2019)//रसायन विज्ञान/अनसाल्वड/Set-3/347FM/प्रश्न संख्या 7(क)/अथवा खण्ड/२. ]

Image
उत्तर :
जीनान टेट्राफ्लोराइड (XeF4), जल के साथ अभिक्रिया कर जीनान ट्राईऑक्साइड(XeO3) में परिवर्तित हो जाता है तथा साथ में जीनान गैस एवं ऑक्सीजन गैस के साथ-साथ हाइड्रोजन फ्लुओराइड भी प्राप्त होता है।
6XeF4 + 12H2O → 4 Xe + 2XeO3 + 24HF + 3O2

फेरस सल्फेट से फेरिक सल्फेट कैसे प्राप्त करेंगे ? [ यूपी बोर्ड परीक्षा /कक्षा12/(2019)//रसायन विज्ञान/अनसाल्वड/Set-3/347FM/प्रश्न संख्या 7(क)/अथवा खण्ड/१. ]

Image
उत्तर :
फेरस सल्फेट की अभिक्रिया , हाइड्रोजन पराक्साइड   की उपस्थिति में सल्फ्यूरिक अम्ल से कराने पर फेरिक सल्फेट प्राप्त होता है।
FeSO4 + H2SO4 + H2O2 → Fe(SO4)3 + 2H2O

क्या होता है जब जीनान टेट्राफ्लोराइड (XeF4) तथा डाई ऑक्सीजन डाई फ्लुओराइड(O2F2) को 143 केल्विन तापमान पर अभिकृत कराते हैं ? [ यूपी बोर्ड परीक्षा /कक्षा12/(2019)//रसायन विज्ञान/अनसाल्वड/Set-3/347FM/प्रश्न संख्या 7(क)/५. ]

Image
उत्तर :
जीनान टेट्राफ्लोराइड ( XeF4 ) को डाई ऑक्सीजन डाई फ्लुओराइड (O2F2) के साथ 143 केल्विन ताप पर गर्म करने पर जीनान हेक्साफ्लोराइड प्राप्त होता है तथा ऑक्सीजन गैस मुक्त होती है।
XeF4 + O2F2 → XeF6 + O2 

क्या होता है जब क्लोरीन को फ्लुओरीन के साथ 437 केल्विन तापमान पर गर्म करते हैं ? [ यूपी बोर्ड परीक्षा /कक्षा12/(2019)//रसायन विज्ञान/अनसाल्वड/Set-3/347FM/प्रश्न संख्या 7(क)/अथवा/३. ]

Image
उत्तर :
क्लोरीन को फ्लुओरीन के साथ 437 केल्विन तापमान पर गर्म करने के बाद क्लोरीन ट्राई फ्लोराइड प्राप्त होता है।
Cl2 + 3F2 → 2ClF3