यूपी में अब योगी-युग


अन्तत: यह निर्णय हो ही गया कि आखिर यूपी का मुख्यमंत्री कौन होगा। मुख्यमंत्री चुनाव के लिए दिल्ली से आऐ वैकेया नाइडू पर्यवेक्षक के रूप में थे जिन्होने आधिकारिक रूप से एलान किया कि यूपी का मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी होंगे और उनके सहयोगी के रूप में दो उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा जी होंगे।  
मुख्यमंत्री क रूप में योगी जी का नाम आते ही विपक्षा पार्टी के प्रवक्ताओं द्वारा बीजेपी को निशाना बनाना शुरू कर दिया हैं। विपक्षी कह रहे हैं कि बीजेपी जिस मुद्दे को लेकर चुनाव लडी और जिसको लेकर चुनाव जीती है वह अपना मुख्यमंत्री चुनकर ही अपने दावों की पोल खोल रही है। वह विकास नहीं 2019 देख रही है और विकास नहीं शमशान और कबरिस्तान तक ही रह जाऐगी।
लेकिन सोचने 
आली एक बात यह भी है कि यूपी में बीजेपी के 312 विधायक चुवाव जीते हैं उनमें से बीजेपी आलाकमान को एक भी मुख्यमंत्री योग्य नहीं पाया। 
खैर योगी जी से यही सबकी अपेक्षा रहेग कि प्रदेश में कानून ब्यस्था बनी रहे और प्रदेस का सर्वांगीण विकास हो।

Comments

Popular posts from this blog

जेट-प्रवाह ( Jet Streams ) क्या है

उत्तर प्रदेश की प्रमुख फसलें कौन-कोन सी हैं

विभिन्न देशों के राष्ट्रीय पशु