ज्वार-भाटा क्या होता है

ज्वार-भाटा का अंग्रेजी रूपान्तरण Tides कहलाता हैं।  चन्द्रमा  और सूर्य की आकर्षण शक्तियों के कारण सागरीय जल के उपर उठने तथा नीचे गिरने को ही ज्वार-भाटा कहते हैं।
चन्द्रमा सूर्य की तुलना में पृथ्वी के निकट हैं  इसलिए चन्द्रमा का ज्वार-उत्पादन क्षमता अधिक होती हैं।
अमावस्या और पूर्णिमा के दिन उच्च ज्वार उत्पन्न होता हैं।
ज्वार प्रतिदिन दो बार आते हैं।

Popular posts from this blog

जेट-प्रवाह ( Jet Streams ) क्या है

उत्तर प्रदेश की प्रमुख फसलें कौन-कोन सी हैं

विभिन्न देशों के राष्ट्रीय पशु