ज्वार-भाटा क्या होता है

ज्वार-भाटा का अंग्रेजी रूपान्तरण Tides कहलाता हैं।  चन्द्रमा  और सूर्य की आकर्षण शक्तियों के कारण सागरीय जल के उपर उठने तथा नीचे गिरने को ही ज्वार-भाटा कहते हैं।
चन्द्रमा सूर्य की तुलना में पृथ्वी के निकट हैं  इसलिए चन्द्रमा का ज्वार-उत्पादन क्षमता अधिक होती हैं।
अमावस्या और पूर्णिमा के दिन उच्च ज्वार उत्पन्न होता हैं।
ज्वार प्रतिदिन दो बार आते हैं।

Popular posts from this blog

उत्तर प्रदेश की प्रमुख फसलें कौन-कोन सी हैं

जेट-प्रवाह ( Jet Streams ) क्या है

विभिन्न देशों के राष्ट्रीय पशु