भारत के निरन्त्रक एवं महालेखा परीक्षक से संबंधित महत्वपूर्ण तथ्य

नमस्कार दोस्तों !  यहाँ पर हम   " भारत के नियन्त्रक एवं महालेखा परीक्षक  " से संबंधित उन बिन्दूओं को रख रहे हैं जो किसी भी प्रतियोगी परीक्षा की दृष्टि से महत्वपूर्ण है और किसी न किसी प्रतियोगी परीक्षा में पूछा गया है।

~  भारत के नियन्त्रक एवं महालेखा परीक्षक यानी कैग ( CAG - Comptroller and Auditor General of India ) सार्वजनिक धन का संरक्षक होता है।  

~  इनकी नियुक्ति भारत के राष्ट्रपति करते हैं। लेकिन राष्ट्रपति इनको पदमुक्त नहीं कर सकता है। इनको संसद के दोनो सदनों में इनक खिलाफ कदाचार व अयोग्यता साबित करने पर ही हटाया जा सकता है।

~  इनका कार्यकाल 6 वर्षों का होता है परन्तु 65 वर्ष की आयु पूरी होने पर अवकाश ग्रहण कर लेता हैं।

~  अपने सेवा-निवृत्ति के बाद भारत के महालेखा एवं परीक्षक भारत सरकार के अधीन का कोई भी पद धारण नहीं कर सकता।

~  इसका उल्लेख संविधान के अनुच्छेद 148 से 151 तक में हैं।


            दोस्तों !! कहते हैं ज्ञान बांटने से बढ़ता है। यह जानकारी आपको कैसी लगी कमेंट में जरूर बताऐं। अच्छी लगी तो इसे आप सेयर करे ताकि दूसरों को भी इसका लाभ हो।

Popular posts from this blog

उत्तर प्रदेश की प्रमुख फसलें कौन-कोन सी हैं

जेट-प्रवाह ( Jet Streams ) क्या है

विभिन्न देशों के राष्ट्रीय पशु