जानिये सौरमण्डल के बारे में


सौरमण्डल , आकाशीय पिंडों का वह समूह है जो सूर्य के चारो ओर चक्कर लगाते हैं। जैसे -  विभिन्न ग्रह , क्षुद्रग्रह , धूमकेतु आदि। सौरमण्डल में सूर्य ही समस्थ उर्जा का स्रोत है। सूर्य का परिक्रमण करने वाले पिंडों को ग्रह कहा जाता है। विभिन्न ग्रह अपनी-अपनी कक्षाओं में सूर्य का परिक्रमण करते हैं।
सूर्य ही सौर्यमण्डल का प्रधान होता है। सूर्य एक ऐसा गैसीय गोला हे जिसमें हाइड्रोजन लगभग 71 % ,  हीलियम  लगभग 26% और कुछ अन्य तत्व 3% होते हैं।
इसक केन्द्रीय भाग को कोर कहा जाता हैं।

Popular posts from this blog

उत्तर प्रदेश की प्रमुख फसलें कौन-कोन सी हैं

जेट-प्रवाह ( Jet Streams ) क्या है

विभिन्न देशों के राष्ट्रीय पशु