स्वामी विवेकानन्द के 10 अनमोल विचार


नमस्कार दोस्तों !!

यहाँ हम स्वामी विवेकानन्द के कुछ ऐसे अनमोल विचार रख रहे हैं  जो हम सभी को प्रेरणा देती है।


1•  "  उठो , जागो और तब तक ना रुको जब तक लक्ष्य न मिल जाएं। "


2• "  अनुशासन,  परिश्रम, ईमानदारी तथा उच्च मानवीय मूल्यों के बिना किसी का जीवन महान नहीं बन सकता है। "


3•  "  जिसके साथ श्रेष्ठ विचार रहते हैं, वह कभी भी अकेला नहीं रह सकता । "


4•  "  आप ईश्वर में तब तक विश्वास नहीं कर पाएंगे जब तक आप अपने आप में विश्वास नहीं करते। "

5•  "  मन की दुर्बलता से अधिक भयंकर और कोई पाप नहीं है। "


6•  " हमारा भय ही पतन और पाप का निश्चित कारण है। "

7•  " ब्रह्माण्ड की सारी शक्तियां पहले से हमारे अन्दर हैं । वो हमीं हैं जो अपनी आँखों पर हाँथ रख लेते हैं और फिर रोते हैं कि कितना अन्धेरा  है। "

8•   " हमारे व्यक्तित्व की उत्पत्ति हमारे विचारों में है।विचार मुख्य हैं, शब्द गौण हैं और विचारों का असर दूर तक होता है। " 


9•  " वस्तुएं बल से छीनी या धन से खरीदी जा सकती हैं, परन्तु ज्ञान केवल अध्ययन से ही प्राप्त किया जा सकता है ।"

10•  " आप को अपने भीतर से ही विकास करना होता है। आपको कोई नहीं सीखा सकता, आपको कोई आध्यात्मिक नहीं बना सकता। आपको सिखाने वाला और कोई नहीं, सिर्फ आपकी आत्मा ही है। "

Comments

Popular posts from this blog

जेट-प्रवाह ( Jet Streams ) क्या है

उत्तर प्रदेश की प्रमुख फसलें कौन-कोन सी हैं

विभिन्न देशों के राष्ट्रीय पशु