अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस ( International Literacy Day )

 पुरे विश्व को  साक्षर बनाने  और निरक्षरता  के अभिसाप से मुक्ति पाने के उद्देश्य से  यूनेस्को ने 17 नवम्बर सन 1965 को यह निर्णय लिया  कि प्रत्येक वर्ष 8 सितंबर को विश्व साक्षरता दिवस मनाया जायेगा | विश्वभर में सन 1966 को पहला विश्व साक्षरता दिवस मनाया गया था |
एक रिपोर्ट के अनुसार पुरे विश्व में पांच में से एक युवा अभी तक साक्षर नहीं है इनमे से महिलाओं की संख्या दो तिहाई है |
प्रत्येक वर्ष 8 सितम्बर को विश्व साक्षरता दिवस के अवसर पर एक विषय निर्धारित किया जाता है जिसका उद्देश्य विश्व समुदाय , समाज के लोगों को समाज में साक्षरता के महत्व को बतलाना होता है |  विश्व साक्षरता दिवस प्रत्येक वर्ष एक नए उद्देश्य के साथ मनाया जाता है | 

Comments

Popular posts from this blog

उत्तर प्रदेश की प्रमुख फसलें कौन-कोन सी हैं

जेट-प्रवाह ( Jet Streams ) क्या है

विभिन्न देशों के राष्ट्रीय पशु