क्या होता है जब बेंजलडिहाइड को कास्टिक सोडा की उपस्थिति में फेनिल मेथिल कीटोन के साथ गर्म करते हैं ? (2019)/राजीव अनसाल्वड/रसायन विज्ञान/कक्षा 12/set-3/347FM/प्रश्न संख्या 6(ख)५.

उत्तर :

✓ बेंजलडिहाइड को कास्टिक सोडा यानी सोडियम हाइड्रोक्साइड (NaOH) की उपस्थिति में फेनिल मेथिल कीटोन के साथ गर्म करने पर “ 1,3-डाईफेनिल प्रोप-2-इन-1-ओन ” मुख्य उत्पाद के रूप में प्राप्त होता है ।

✓ यह अभिक्रिया क्रास ऐलडाल संघनन कहलाती है।

C6H5CHO + C6H5COCH3 + NaOH → C6H5-CH=CH-CO-C6H5

Comments